www.manojbhawuk.com

Welcome to Manoj Bhawuk’s Own Website!

Bhojpuri Poet, Writer, and Film-critic.

Advertisements

42 Responses to www.manojbhawuk.com

  1. bhojpuri songs कहते हैं:

    We love to be part with you in promoting our culture and music

  2. bharatwasi001 कहते हैं:

    मनोज जी,

    आपने जो मोबाइल नं॰ दिया था, वो तो बदल गया। आपसे दुबारा बात नहीं हो पाई। मैंने बहुत कोशिश की। आज खोजते-खोजते आपके ब्लॉग पर आ गया। अच्छा काम शुरू किया है आपने।

  3. sagar कहते हैं:

    maharaj rauva k internet p khojla k jarurate naikhe. charo or t rauve baani.
    aap wo suraj ki kiran hai naa dubenge kabhi.
    raat hote hi sitaaro me bikkhar jaenge.

  4. Vikram Rao कहते हैं:

    manoj ji raura ke namaskaar kart hayee ,, raura se ego daat kahe ke rahe , tani aapan numbarwa dedeti ta thik rahat ,, baat ee ba ki hamahu raura ke sathe judal chahat tani , Hamar tv me , hum lucknow me raheni, auri reporting me hamara ke saat saal ke anubhav bate baki raura ke jaisan marjee, hamar no, hauve .09425370537

  5. Animesh Sharma कहते हैं:

    Hi Manoj, liked your blog. Wanted to share this http://randompicsofani.blogspot.com/2009/02/bichitra-samosa.html link to classic humor poetry in bhojpuri.
    Hope you will like it,
    Animesh

  6. dchakrabortee कहते हैं:

    manoj /
    i am a bengali writer for 5 decades . since i know some indian languages , i translate too . please send some of your poems / short stories by mail to dchakrabortees@gmail.com . thnak you
    debashis chakrabortee , pratichi , n s rd , subhaspally , siliguri (w b ) 734001 . mob 9434466410

  7. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भाउक जी आप बहुत बढ़िया लिखले बानी हमहु लिखिला भोजपुरी उत्थान मंच के संयोजक ह ईँ08896125767

  8. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    इ कऽइसन कि बेटी,उ कऽइसन के बेटा, पोँछत पोँछत बीतल ससुरवन के नेटा. बतावऽ भला क इसे चली ई गाड़ी कबो फुटी कौड़ी एको देता न लेता।निरक्षर जानि हमरे के पढ़ावे दु चार वाला खर्चा 20-40 बतावे,ढाँसत 2 छाती छाता सा तन जाले,तबो ना खुरकवा दवाई के लावे,सुबह शाम ढरकी ढरकावे दारु के,ताड़ी भी स्पेशल दवाई सा लेता बताव….बियाहे के बेरी चप्पल जूता घिसल,महतारी नियन कोरा ले लेके मिसल,खियाले ना कऽइली दुख अपना दरदवा रुपऽइया दे दे के तोड़त रहली रिसल,रह 2 के उपवास साँझे सबेरवा खिलावत रह गऽइनी समोसा व पेँठा बताव…..उड़त दम लेकिन खिचत रहि ठेला,ले आवत रही रोजे बबुवन के केला,फाटल रहे तन पे कुर्ता पैजामा,देखावत रहीँ घूमि2 गँऽउवन के मेला,मगर का कहि कऽईसन आईल जमाना बीड़ी सुर्ती कऽ खर्चा मगलो पर लपेटा बताव…..सरकारी छोड़ाके प्राइवेटे पढ़वलीँ,निमन जगह दू दू गो ट्यूशन लगवली, बनी बबुवा आपन बुढ़ऽवती के लाठी,करजा के लिहल राज दिल मेँ दबऽवली.कऽईसे ऊठाई बड़ दवाई के खर्चा ,मिलल एके धोती कऽई बारेऽ जे रेटा बताव…..दु तीन वालऽ मुर्गी के बुझत परिवरवा,भुलाइल माई बाबु के सब उ प्यरवा,कबो ना सोचत अपनो दिन त उहे आई,जेमे मिली ओइसहिँ अपनो के बखरवा,रमायण ,हरिकिर्तन फिर स्राध कऽईसे करि,खरीदते ना जब काथा पुजा के मेटा।बताव….हाय रे बेटी हाय रे बेटी के मरदा,अटत ना कबो सास ससुरवन के परदा,समधी जमावत रौब बहुरिया पे केतना,जऽईसे मे बजरीया से पऽइसा से खरिदा अइसहिँ चलत रही जब ए “बासु” जग मेँ,ना केहु करी पैदा बेटी ना बेटाँ।बताव……प्लीज कमेँट करी राना रंजीत बासु08896125767भोजपुरी उत्थान मंच ढढ़नी गाजीपुर उ प्र 232336

  9. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भोजपुरी के भ.उवा घटल काहे जाता,एके अदमिया बटल काहेँ जाता,का राखल बाटे ई दुनिया मेँ भ इया,इ अपने मेँ अपने कटल काहेँ जाता।

  10. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    नीक नीक चीज देखि हरी बहेला,मिललो पर कहेला कि लहेला न लहेला हम त जानत बानी र उवा भी बताई तनि, सगरो जमाना ओके कवन चीज कहेला।

  11. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    वादा बे वादा हो ग इला पे बड़ा बुझाई हो नीद क इसे के कह तुहि उनके आई हो RANA RANJEET BASU-BHOJPURI UTTHAN MANCH DHARANI GHAZIPUR 08896125767

  12. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    मनोज भाऊक एगो गीत कविता आप खातिर-मन के दियरा ना जलऽइब दिल के साफा ना बनऽइब घी के दियरा जलाके का होई सगरो अँजोर करबऽ घर मेँ अन्हरवा मिटि नाही दिलवा से दिलवा के डरवा दुजा घर मेँ अँजोरिया लाके का होई। मनके ….रहिया न जानत बाल रहिया बतऽइब अपने भुलऽइब सँगे सबके भुलवऽइब अइसन रहिया बताके का होई अपने नियन “बासु” दुसरो के जानऽ कऽइसन के अदमी बा तनि पहचाऽनऽ सबे अदमा अजमाके का होई । RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH ) DHARANI GHAZIPUR UP 232336MO. 08896125 मनोज भाऊक एगो गीत कविता आप खातिर-मन के दियरा ना जलऽइब दिल के साफा ना बनऽइब घी के दियरा जलाके का होई सगरो अँजोर करबऽ घर मेँ अन्हरवा मिटि नाही दिलवा से दिलवा के डरवा दुजा घर मेँ अँजोरिया लाके का होई। मनके ….रहिया न जानत बाल रहिया बतऽइब अपने भुलऽइब सँगे सबके भुलवऽइब अइसन रहिया बताके का होई अपने नियन “बासु” दुसरो के जानऽ कऽइसन के अदमी बा तनि पहचाऽनऽ सबे अदमा अजमाके का होई । RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH ) DHARANI GHAZIPUR UP 232336MO. 08896125 मनोज भाऊक एगो गीत कविता आप खातिर-मन के दियरा ना जलऽइब दिल के साफा ना बनऽइब घी के दियरा जलाके का होई सगरो अँजोर करबऽ घर मेँ अन्हरवा मिटि नाही दिलवा से दिलवा के डरवा दुजा घर मेँ अँजोरिया लाके का होई। मनके ….रहिया न जानत बाल रहिया बतऽइब अपने भुलऽइब सँगे सबके भुलवऽइब अइसन रहिया बताके का होई अपने नियन “बासु” दुसरो के जानऽ कऽइसन के अदमी बा तनि पहचाऽनऽ सबे अदमा अजमाके का होई । RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH ) DHARANI GHAZIPUR UP 232336MO. 08896125 मनोज भाऊक एगो गीत कविता आप खातिर-मन के दियरा ना जलऽइब दिल के साफा ना बनऽइब घी के दियरा जलाके का होई सगरो अँजोर करबऽ घर मेँ अन्हरवा मिटि नाही दिलवा से दिलवा के डरवा दुजा घर मेँ अँजोरिया लाके का होई। मनके ….रहिया न जानत बाल रहिया बतऽइब अपने भुलऽइब सँगे सबके भुलवऽइब अइसन रहिया बताके का होई अपने नियन “बासु” दुसरो के जानऽ कऽइसन के अदमी बा तनि पहचाऽनऽ सबे अदमा अजमाके का होई । RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH ) DHARANI GHAZIPUR UP 232336MO. 08896125767

  13. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भोजपुरी कविता “गदहा से बैल” बचपन मेँ ना पढ़नी त गदहा कहइनी ,धीरे धीरे बड़ होई बैल हो गइनी। बाबू कऽहँ पढ़ पढ़, दूर दूर भागी, दिन भर घूमि घामी रात भर जागी। सबहिँ लइकवन से कइली त झगरा,बुढ़वन के खोलत रह गइनी धोती, पगरा। बोली के मिठाई मेँ भुलवइनी दुकानदरवा फिर त चोरावल गइल अँगूर के घरवा।अमरुद अनार चोरवावल गइल डाढ़ी से,उखिया के रस निकालल जाये राढ़ि से।बहरी बहरी आपन घरवो ना छूटल ,लैनु निकालत समय परई मेँटी फुटल। अपने उड़ावल ग इल दूधवा के सारही दोष मढ़ल गइल खइलस बिलरा कारी। एतना ढिठाई सबके गड़े लागल आँखि, मिले वाला प्यार रखा गइल ताखि। देखते देखत हाथ के मैल हो गइनी धीरे धीरे बड़ हो बैल….हाल स्कूलिया के मन नाही लागल पटरी लराई फरवाई घर भागल।स्कूल के समय बित जात रहे डहरिया खेलत गुल्ली डड्रडा अउरी चरावत के बकरिया ।भईल अनवाद्ध ना कि तनका बताई,ओफा के छुट्टी कुदीँ पोखरा नहाईँ।धीरे धीरे बदलल बचपन जवानी मेँ, कुछ त रवानी आइल अपना कहानी मेँ नैन के सेकउवल बदनाम भइलीँ टोला मेँ ,मार लतियावल गईली दूसरा मोहाल्ला मेँ। मोहब्बत मे मोहब्बत के रखैल हो गईनी…. शेष अगले अँक मे RANA RANJEET BASU -BHOJPURI UTTHAN MANCH DHARANI GHAZIPUR UP 232336 MO.08896125767

  14. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भोजपुरी कविता “गदहा से बैल” बचपन मेँ ना पढ़नी त गदहा कहइनी ,धीरे धीरे बड़ होई बैल हो गइनी। बाबू कऽहँ पढ़ पढ़, दूर दूर भागी, दिन भर घूमि घामी रात भर जागी। सबहिँ लइकवन से कइली त झगरा,बुढ़वन के खोलत रह गइनी धोती, पगरा। बोली के मिठाई मेँ भुलवइनी दुकानदरवा फिर त चोरावल गइल अँगूर के घरवा।अमरुद अनार चोरवावल गइल डाढ़ी से,उखिया के रस निकालल जाये राढ़ि से।बहरी बहरी आपन घरवो ना छूटल ,लैनु निकालत समय परई मेँटी फुटल। अपने उड़ावल ग इल दूधवा के सारही दोष मढ़ल गइल खइलस बिलरा कारी। एतना ढिठाई सबके गड़े लागल आँखि, मिले वाला प्यार रखा गइल ताखि। देखते देखत हाथ के मैल हो गइनी धीरे धीरे बड़ हो बैल….हाल स्कूलिया के मन नाही लागल पटरी लराई फरवाई घर भागल।स्कूल के समय बित जात रहे डहरिया खेलत गुल्ली डड्रडा अउरी चरावत के बकरिया ।भईल अनवाद्ध ना कि तनका बताई,ओफा के छुट्टी कुदीँ पोखरा नहाईँ।धीरे धीरे बदलल बचपन जवानी मेँ, कुछ त रवानी आइल अपना कहानी मेँ नैन के सेकउवल बदनाम भइलीँ टोला मेँ ,मार लतियावल गईली दूसरा मोहाल्ला मेँ। मोहब्बत मे मोहब्बत के रखैल हो गईनी…. शेष अगले अँक मे RANA RANJEET BASU -BHOJPURI UTTHAN MANCH DHARANI GHAZIPUR UP 232336 MO.08896125767 सुझाव जरुर देहि

  15. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    जय भोजपुरी, भोजपुरी कविता “गदहा से बैल” बचपन मेँ ना पढ़नी त गदहा कहइनी ,धीरे धीरे बड़ होई बैल हो गइनी। बाबू कऽहँ पढ़ पढ़, दूर दूर भागी, दिन भर घूमि घामी रात भर जागी। सबहिँ लइकवन से कइली त झगरा,बुढ़वन के खोलत रह गइनी धोती, पगरा। बोली के मिठाई मेँ भुलवइनी दुकानदरवा फिर त चोरावल गइल अँगूर के घरवा।अमरुद अनार चोरवावल गइल डाढ़ी से,उखिया के रस निकालल जाये राढ़ि से।बहरी बहरी आपन घरवो ना छूटल ,लैनु निकालत समय परई मेँटी फुटल। अपने उड़ावल ग इल दूधवा के सारही दोष मढ़ल गइल खइलस बिलरा कारी। एतना ढिठाई सबके गड़े लागल आँखि, मिले वाला प्यार रखा गइल ताखि। देखते देखत हाथ के मैल हो गइनी धीरे धीरे बड़ हो बैल….हाल स्कूलिया के मन नाही लागल पटरी लराई फरवाई घर भागल।स्कूल के समय बित जात रहे डहरिया खेलत गुल्ली डड्रडा अउरी चरावत के बकरिया ।भईल अनवाद्ध ना कि तनका बताई,ओफा के छुट्टी कुदीँ पोखरा नहाईँ।धीरे धीरे बदलल बचपन जवानी मेँ, कुछ त रवानी आइल अपना कहानी मेँ नैन के सेकउवल बदनाम भइलीँ टोला मेँ ,मार लतियावल गईली दूसरा मोहाल्ला मेँ। मोहब्बत मे मोहब्बत के रखैल हो गईनी…. शेष अगले अँक मे RANA RANJEET BASU -BHOJPURI UTTHAN MANCH DHARANI GHAZIPUR UP 232336 MO.08896125767 सुझाव जरुर देहि

  16. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    अब तक के भोजपुरी उत्थान मंच द्वारा प्रस्तुति देवे वाला गायकन के सूचि-RANA RANJEET BASU-GAYAK GEETKAR(BHOJPURI UTTHAN MANCH KE SANSATHAPAK)2.KAMLESH KAUSHIK,RAMESH RASIYA ,BRIJESH MATLABI,AKHAND PRATAP,RAMDULAR PANDEY,PRAKASH C.RAGI,UPENDRA YADAV,KUNWAR S.SITARE ,RADHESHYAM YADAV,SHIVMANGAL BANJO, RAMKESH BANJO,AJAY DIPU, SANTOSH SHARMA ,AMITABH TIWARI,OMPRAKASH SHARMA,MUNNA MRIDUL,RAKESH,PRAMOD THAKUR,SUNIL PANDIT,JP PANDEY, DEVESH TIWARI,RAVIKESH,KRISHNA NAND, AMARNATH RAI,RAJU MASTANA,RAMBHAROS RASIYA,KULDIP RAI,TUNTUN TIWARI,DHARMENDRA,AIENUL HAQ ANSARI,SIYARAM SAGAR,SANJAY BHARATI,MANISH JIDDI,PAWAN RAI PRITAM,YISHU RAI,MURALI SHARMA,VINOD PRAJAPATI,RAM MANOJ TRIPATHI, MITHILESH SHASHTRI. S. SANTRAM,JAMUNA DANCER, JK DANCER ,RAVIKANT YADAV,MATHURI,MANTURAJ,SHAILENDRA, व LOVELY DANCER,अन्य.

  17. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भोजपुरी को आगे बढ़ाने मेँ आप भोजपुरिया भईया आगे आवेँ RANA RANJEET BASU -BHOJPURI UTTHAN MANCH DHARANI GHAZIPUR

  18. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    ये मेरी भोजपुरी की नई रचना है। सावन आईल,तु नाही अइलऽ बलमु कवन सवत मेँ भुलईलऽ । धड़कता धक धक धक धक छतिया,कइसे बताई बितत कइसे रतिया,फोनवा ना चिठ्ठियो तु कबहु पठईला। भिगत तन-मन जरि जरि जाता,सावन कऽ रिमझिम बड़ा ही बुझाता।कइसन करेजा तोहार केतना तरसईला । अइबऽ जे अब राखब बान्ही के अचरा,सुने सुनावे के ना रही कवनो पचरा,जाईब नाही देहिब “बासु” अबकी जे अइलऽ । सावन……। राना रंजीत “बासु” ढढ़नी गाजीपुर(भोजपुरी उत्थान मंच।M. 08896125767,09125724399)

  19. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    बासु के गीत। गलती खातिर सुझाव देहीँ, ये मेरी भोजपुरी की नई रचना है। सावन आईल,तु नाही अइलऽ बलमु कवन सवत मेँ भुलईलऽ । धड़कता धक धक धक धक छतिया,कइसे बताई बितत कइसे रतिया,फोनवा ना चिठ्ठियो तु कबहु पठईला। भिगत तन-मन जरि जरि जाता,सावन कऽ रिमझिम बड़ा ही बुझाता।कइसन करेजा तोहार केतना तरसईला । अइबऽ जे अब राखब बान्ही के अचरा,सुने सुनावे के ना रही कवनो पचरा,जाईब नाही देहिब “बासु” अबकी जे अइलऽ । सावन……। राना रंजीत “बासु” ढढ़नी गाजीपुर(भोजपुरी उत्थान मंच।M. 08896125767,09125724399)

  20. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    बल होला बजरंग बली से, ज्ञान सरस्वती माई से।मन के अशुद्धि पाप मिटेला , देव भजन हो गाइ के। RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) DHARANI GHAZIPUR, SINGER, KAVI

  21. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    अलग बाटे आपन भोजपुरी के बतिया,अलग बाटे भईया भोजपुरी जवनवा।अलग पैदावरिया भोजपुरी मटिया के अलग बाटे इहँवा के भोजपुरी किसनवा। टेपुल गरीब(BHOJPURI UTTHAN MANCH) DHARANI GHAZIPUR, TEPUL GARIB,MO.09125724399

  22. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    BHOJPURI WA BHOJPURI UTTHAN MANCH KE AAGE BADHAWE KHATIR CALL KARI,08896125767

  23. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    निर्गुन, बड़ा याद आवेलाऽ-2, कबो दिनवा मेँ सुतला पे,कबो रतिया मेँ जगला पे,कबो मनवा बे कहला पे…।बड़ा… याद आवेला तोहार मीठी मीठी बतिया,संग मेँ गुजारल तोहार दिन अउरि रतिया।कबो…। बड़ा…। बड़ा याद आऽवल करे भोली सुरतिया,रुठल मनावल कईल गईल उ पिरीतिया।कबो….। बड़ा….। RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) DHARANI GHAZIPUR, BHOJPURI,HINDI SINGER LIVE SHOW KE LIYE CALL KARE MO.N.08896125767

  24. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    निर्गुन, बड़ा याद आवेलाऽ-2, कबो दिनवा मेँ सुतला पे,कबो रतिया मेँ जगला पे,कबो मनवा बे कहला पे…।बड़ा… याद आवेला तोहार मीठी मीठी बतिया,संग मेँ गुजारल तोहार दिन अउरि रतिया।कबो…। बड़ा…। बड़ा याद आऽवल करे भोली सुरतिया,रुठल मनावल कईल गईल उ पिरीतिया।कबो….। बड़ा….। RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) DHARANI GHAZIPUR, BHOJPURI,HINDI SINGER LIVE SHOW KE LIYE CALL KARE MO.N.08896125767,09125724399

  25. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    स्वरचित निर्गुन, बड़ा याद आवेलाऽ-2, कबो दिनवा मेँ सुतला पे,कबो रतिया मेँ जगला पे,कबो मनवा बे कहला पे…।बड़ा… याद आवेला तोहार मीठी मीठी बतिया,संग मेँ गुजारल तोहार दिन अउरि रतिया।कबो…। बड़ा…। बड़ा याद आऽवल करे भोली सुरतिया,रुठल मनावल कईल गईल उ पिरीतिया।कबो….। बड़ा….। RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) DHARANI GHAZIPUR, BHOJPURI,HINDI SINGER LIVE SHOW KE LIYE CALL KARE MO.N.08896125767,09125724399

  26. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भोजपुरी के आगे बढ़ावे मेँ हमार सहयोग देहि।

  27. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    जय भोजपुरी जय भोजपुरी उत्थान मंच

  28. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    पर्दा के आड़ मेँ लुकाके का इ करता ,भरऽताऽ हो लुट के जेब आपन भरता,लूट लूट के।मेँस बा होटल कंटिन फिरी खाना कऽ प्लेट से जाये उ घिरी,केहु खइला बिना मरे,केहु खाय खाय मरऽता।लूट लूट के.. टिनोपाल दिहल कुर्ता अउरी बा पैजामा. छाँव बस पड़ल बा सर पे पड़ल बा ना घामा,छुट्टा साँड़ भइल बा सगरो घूमि घूमि के चरऽता।लूट लूट…।राना रंजीत “बासु” गायक गीतकार (भोजपुरी उत्थान मंच) ढढ़नी गाजीपुर उ प्र

  29. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    राम भजो रे मनवा ऽ भजो रे भजो रे श्याम भजो मनवा।इस जग मेँ तेरा कुछ भी नही है ,कर ले सुमिरनवाऽ..।भजो ..।क्या ढुढ़त है, क्या खोया है, सब तेरे पास धनवा। भजो रे…। राना रंजीत बासु गायक-गीतकार 08896125767

  30. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    राम भजो रे मनवा ऽ भजो रे भजो रे श्याम भजो मनवा।इस जग मेँ तेरा कुछ भी नही है ,कर ले सुमिरनवाऽ..।भजो ..।क्या ढुढ़त है, क्या खोया है, सब तेरे पास धनवा। भजो रे…। राना रंजीत बासु गायक-गीतकार 08896125767 MO.09125724399

  31. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भाउक जी आप के प्रणाम

  32. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    भाउक जी हमनियोँ पर नजर फेर दी ना

  33. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    हमनियोँ के मौका देहीँजा

  34. RANA RANJEET BASU(BHOJPURI UTTHAN MANCH) कहते हैं:

    लाल देह लाल लगे लगे लगे हैँ खटमल जीव पियत खून ह चुस चुस के जइसे पियत ह घीव।

  35. Arun dev yadav कहते हैं:

    jai ganga maiya manojbhaeuk ji , namaste , prnam , ram ram , aap ke charn bandan ba hamre tarf se .bhojpuri me ham aap ke lekh padali aur hamre khusi se karejwa gadgad ho gail..
    bahut badiya kosish…………….

    ham aage bhi aap se judal chahab…..

    shubh ratri,,,

    jai ganga maiya

  36. Ham ye chahen sanam tu yad aati rahe ,ho khade samane muskurati rahe
    Palaken ham band kar dhudhenge khwab me,dil bulata rahe aur tu aati rahe… ho khade ,
    Teri tasbeer aankho men rahati sada likhata ” basu” gazal aur tu gati rahe……ho khade samane
    Dekh tujhako hansi sapane mai bunata,mai sajata rahun tu sajati rahe….ho khade samane ….mobile 09125724399.

  37. रणजीत सिंह यादव कहते हैं:

    आप सबके खातिर
    आऽपन एगो भोजपुरी गीत
    जे ना जाऽनत बा उहो त जान रे
    मोरी मईया महान रे
    कहीं दुर्गा कहाली, कहीं काली पूजाली
    कहीं चण्डी माई से पहचान रे
    मोरी मईया महान रे
    केहू पूजेला मंददिरीया में जाके
    केहू पूजे घर में फोटो लगाके
    केहू केहूऽ त पूजे ला भईया
    उनका के आऽपन दिल में बसाऽके
    कहीं दुर्गा कहाली कहीं काली पूजाली
    कहीं चण्डी माई से पहचान रे
    मोरी मईया महान रे
    शूर-असुर से ना कबहूँ डेरइली
    जईसन समय तइसन रूप धरी अइली
    जे भी करऽत रहे धरम के हानी
    मारी अधर्मी के धरती बचवली
    कहीं दुर्गा कहाली कहीं काली पूजाली
    कहीं चण्डी माई से पहचान रे
    मोरी मईया महान रे
    आदमी अपना पर आइल विपत्ति से ही कुछ सीख सकेला
    अउरी कुछ बन सकेला

    विपत्ति के नेवता देहल बुद्धिमानी ना बेवकूफी होला

    अवसर कऽ ताक में हमनी के होखे के चाही
    अवसर के ना
    अवसर बिना नाऊ-बारी के आई अउरी आके चल जाई

    यदि आप कुछ सीखल चाहऽत बानी तऽ एगो छोट लईका से सीखी,कि उ कइसे गिर गिर के चले सीखलऽसऽ।

    राना रंजीत बासु गायक गीतकार
    भोजपुरी उत्थान समिति ढढ़नी गाजीपुर 09125724399
    08896125767

  38. रणजीत सिंह यादव कहते हैं:

    साथे साथे चलबु का नदिया के तीर
    जहाँ बहेला पावन गंगा जी के नीर
    कूके कोयलिया जहँवा रे काली काली
    महके बेइलिया के फूल डाली डाली
    झूरी झूरी बहे जहाँ,पुरवा समीर
    जहाँ बहेला पावन….
    पंछी सब मिलके करे अटखेलिया
    देखेके मिली ,मिलन के उ बेलिया
    देखी भूलाई जाई मनवा के पीर
    जहाँ बहेला पावन गंगा……
    कइल जाई बात उहाँ दिलवा के सारा
    तु हमार होइबु हमार, हम तोहार हो यारा
    सूत जाइ बासु धके कन्हिया पे सिर
    जहाँ बहेला पावन गंगा जी के नीर

    आप सबके खातिर
    आऽपन एगो भोजपुरी गीत
    जे ना जाऽनत बा उहो त जान रे
    मोरी मईया महान रे
    कहीं दुर्गा कहाली, कहीं काली पूजाली
    कहीं चण्डी माई से पहचान रे
    मोरी मईया महान रे
    केहू पूजेला मंददिरीया में जाके
    केहू पूजे घर में फोटो लगाके
    केहू केहूऽ त पूजे ला भईया
    उनका के आऽपन दिल में बसाऽके
    कहीं दुर्गा कहाली कहीं काली पूजाली
    कहीं चण्डी माई से पहचान रे
    मोरी मईया महान रे
    शूर-असुर से ना कबहूँ डेरइली
    जईसन समय तइसन रूप धरी अइली
    जे भी करऽत रहे धरम के हानी
    मारी अधर्मी के धरती बचवली
    कहीं दुर्गा कहाली कहीं काली पूजाली
    कहीं चण्डी माई से पहचान रे
    मोरी मईया महान रे
    आदमी अपना पर आइल विपत्ति से ही कुछ सीख सकेला
    अउरी कुछ बन सकेला

    विपत्ति के नेवता देहल बुद्धिमानी ना बेवकूफी होला

    अवसर कऽ ताक में हमनी के होखे के चाही
    अवसर के ना
    अवसर बिना नाऊ-बारी के आई अउरी आके चल जाई

    यदि आप कुछ सीखल चाहऽत बानी तऽ एगो छोट लईका से सीखी,कि उ कइसे गिर गिर के चले सीखलऽसऽ।

    राना रंजीत बासु गायक गीतकार
    भोजपुरी उत्थान समिति ढढ़नी गाजीपुर 09125724399
    08896125767

  39. राना रंजीत बासु कहते हैं:

    भोजपुरी खातिर भोजपुरी में लिखी जा
    भोजपुरी अश्लीलता के खिलाफ आवाज उठाईं जा।
    सामाजिक गतिविधियन में भाग लेहीं जा।
    राना रंजीत बासु भोजपुरी उत्थान समिति ढढ़नी गाजीपुर

  40. राना रंजीत बासु भोजपुरी उत्थान समिति ढढ़नी गाजीपुर कहते हैं:

    जब तक ले भोजपुरी के प्रति लोगन के सोच ना बदली भोजपुरी कऽ विकास संभव नइखे।
    भोजपुरी के आऽपन माई बाबू लेखा प्यार करीं दुलार करीं।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: